UPI Lite को मिला ई-मैंडेट का दम, अब होंगे छोटे पेमेंट्स और भी आसान!

रिजर्व बैंक ऑफ इंडिया (RBI) ने डिजिटल पेमेंट को बढ़ावा देने के लिए एक बड़ा फैसला लिया है। शुक्रवार को RBI ने यूपीआई लाइट (UPI Lite) को ई-मैंडेट के तहत लाने की मंजूरी दे दी है। इस कदम से छोटे पेमेंट्स करना और भी आसान हो जाएगा।

यूपीआई लाइट क्या है?

  • यूपीआई लाइट, UPI का ही एक प्रकार है, जो छोटे पेमेंट्स के लिए बनाया गया है।
  • इसकी मदद से आप 500 रुपये तक के पेमेंट बिना इंटरनेट के भी कर सकते हैं।
  • यह ऑफलाइन काम करता है, जिसके लिए आपके फोन में UPI Lite App होना जरूरी है।

क्या बदलाव होगा?

  • RBI के फैसले के बाद अब आप यूपीआई लाइट का इस्तेमाल ई-मैंडेट के लिए भी कर सकेंगे।
  • इसका मतलब है कि आप अपने यूपीआई लाइट वॉलेट को ऑटोमैटिक तरीके से रिजार्ज कर सकेंगे।
  • उदाहरण के लिए, आप अपनी बिजली बिल, मोबाइल बिल या दूध-सब्जी का पैसा यूपीआई लाइट के माध्यम से ई-मैंडेट से भर सकेंगे।

इस बदलाव के फायदे:

  • छोटे पेमेंट्स करना होगा और भी आसान: अब आपको बार-बार UPI Lite वॉलेट रिजार्ज करने की जरूरत नहीं होगी।
  • यूपीआई लाइट का इस्तेमाल बढ़ेगा: ई-मैंडेट सुविधा के साथ यूपीआई लाइट का इस्तेमाल और भी ज्यादा लोगों द्वारा किया जाएगा।
  • डिजिटल पेमेंट को बढ़ावा मिलेगा: यह डिजिटल पेमेंट को बढ़ावा देने में मदद करेगा और कैश के इस्तेमाल को कम करेगा।

कुल मिलाकर, RBI का यह फैसला डिजिटल पेमेंट सिस्टम के लिए एक बड़ा कदम है।

यह छोटे पेमेंट्स को और भी आसान और सुविधाजनक बना देगा, जिससे इसका इस्तेमाल और भी ज्यादा लोगों द्वारा किया जाएगा।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *