Noida sector 100 में फटा AC, कहीं आप भी तो नहीं कर रहें हैं ये गलती ?

गर्मी से बचने के लिए एयर कंडीशनर (AC) पर हमारी निर्भरता बढ़ती जा रही है। लेकिन क्या आप जानते हैं कि लापरवाही से AC इस्तेमाल करने से धमाके का खतरा भी बढ़ जाता है?

AC धमाके के मुख्य कारण:

  • रेफ्रिजरेंट का लीक होना: एसी ठंडी हवा बनाने के लिए रेफ्रिजरेंट गैस का इस्तेमाल करता है। अगर गैस लीक होकर किसी इलेक्ट्रिक स्पार्क के संपर्क में आ जाए, तो धमाका हो सकता है।
  • खराब मेंटेनेंस: AC में धूल जमा होने से फिल्टर और कंडेनसर कॉइल पर दबाव बढ़ जाता है, जिससे कंप्रेसर पर लोड बढ़ता है और धमाके का खतरा बढ़ जाता है।
  • धूल और गंदगी: AC में जमा धूल और गंदगी हवा के प्रवाह में रुकावट पैदा करते हैं, जिससे कॉइल ज़्यादा गर्म हो जाते हैं और धमाके का खतरा बढ़ जाता है।
  • लंबे समय तक AC चलाना: लगातार AC चलाने से उसके पार्ट्स ज़्यादा गर्म हो जाते हैं, जिससे धमाके का खतरा बढ़ जाता है।

AC का सुरक्षित इस्तेमाल कैसे करें:

  • नियमित रूप से AC की सर्विसिंग करवाएं: इससे AC में जमा धूल और गंदगी साफ हो जाएगी और रेफ्रिजरेंट गैस लीक होने का पता चल सकेगा।
  • AC को ज़रूरत से ज़्यादा ठंडा ना रखें: 24°C से 26°C के बीच तापमान AC के लिए सबसे अच्छा होता है।
  • AC को लगातार ना चलाएं: जब कमरे में कोई न हो, तो AC बंद कर दें।
  • AC में किसी भी तरह की गड़बड़ी महसूस होने पर तुरंत बंद कर दें और इलेक्ट्रीशियन को बुलाएं।

यह भी याद रखें:

  • AC खरीदते समय उसकी रेटिंग का ध्यान रखें।
  • AC को हमेशा सूखी और हवादार जगह पर लगाएं।
  • AC के आसपास पर्याप्त जगह रखें।

AC का सुरक्षित इस्तेमाल करके आप न सिर्फ धमाके के खतरे को कम कर सकते हैं, बल्कि बिजली की बचत भी कर सकते हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *